GNM Kya Hai : जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी कोर्स यानी जीएनएम एक डिप्लोमा कोर्स है, जिसे 12वीं पास करके कोई भी छात्र कर सकता है। GNM Course उन्हीं स्टूडेंट्स को करना चाहिए जो स्वास्थ्य केंद्रों में मरीज़ों की देखभाल में रुचि रखता हो।जीएनएम पाठ्यक्रम (GNM Course) 3 वर्ष की अवधि का होता है।

नर्सिंग – ‘स्वास्थ्य देखभाल’ प्रणाली का एक अभिन्न अंग है, जो स्वास्थ्य देखभाल के व्यापक स्पेक्ट्रम के भीतर मानसिक स्वास्थ्य और बीमारी की रोकथाम को बढ़ावा देता है। पाठ्यक्रम की अवधि में स्टूडेंट्स को पढ़ाई के साथ ट्रेनिंग दी जाती है, ताकि वो शारीरिक रचना, शरीर विज्ञान, दाई और स्त्री रोग संबंधी नर्सिंग का काम कर सकें।

जीएनएम नर्सिंग (GNM Nursing) के इस कोर्स में प्रवेश पाने के लिए उम्मीदवार को कम से 10+2 में भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान के प्रमुख विषयों के साथ 50% न्यूनतम मार्क्स के साथ पास करना ज़रूरी है। इस कोर्स को करने के बाद स्वास्थ्य देखभाल और नर्सिंग के क्षेत्र में रोजगार के काफ़ी अवसर उपलब्ध हैं।

इस Post मैं हम आपको बताने वाले हैं कि GNM Kya Hai और आप जीएनएम की तैयारी कैसे कर सकते हैं (GNM Ki Tayari Kaise Kar Sakate Hai), इसके लिए देश में सबसे अच्छे कॉलेज कौन कौन से हैं, जीएनएम करने के क्या फ़ायदे हैं और कैरियर स्कोप क्या है, GNM की फीस कितनी होती है?

GNM Course, हेल्थ सेक्टर से जुड़ा हुआ एक बेहतर कैरियर स्कोप वाला कोर्स है, जिन लोगों को हेल्थ फ़ील्ड में रुचि होती है और कुछ समस्याओं जैसे कि आर्थिक समस्या, 12वीं में कम मार्क्स इत्यादि की वजह से मेडिकल सेक्टर के बड़े कोर्स जैसे की MBBS, Pharmacy इत्यादि करने में दिक्कत होती है, ऐसे स्टूडेंट GNM Course में एडमिशन लेकर इस सेक्टर में अपना कैरियर बना सकते हैं।

GNM Nursing एक Diploma Course है, जिसे 3 साल 6 महीने में पूरा किया जा सकता है। इस कोर्स को 12वीं पास कोई भी स्टूडेंट कर सकता है। इस कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट किसी हॉस्पिटल, नर्सिंग होम, क्लीनिक में आने वाले मरीज़ों की देखभाल का काम कर सकते हैं।

कृपया ध्यान दें :

Nursing Courses के Up-Gradation के लिए सरकार द्वारा जारी की गई अधिसूचना के कारण, GNM Course को 2020 तक समाप्त कर दिया जाएगा। इस Course के लिए अंतिम प्रवेश वर्ष 2020-21 के शैक्षणिक वर्ष के लिए ही होगा। इसके बाद इस कोर्स के लिए कोई भी स्टूडेंट Admission नही ले सकता, साथ ही इसकी मान्यता भी ख़त्म कर दी जाएगी।
Page Contents show

जीएनएम क्या है ॰ GNM Kya Hai ? ॰ What is GNM in Hindi

GNM (General Nursing & Midwifery) मेडिकल फ़ील्ड से जुड़ा हुआ एक डिप्लोमा स्तर का Course है, जो की 3 साल 6 महीने का होता है। इसे सामान्य रूप से GNM Nursing के नाम से जाना जाता है। जो स्टूडेंट्स क्लीनिकल नर्सिंग में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, वो इस कोर्स को कर सकते हैं। इस कोर्स में 3 साल कॉलेज में पढ़ना पड़ता है, उसके बाद 6 महीने की इंटर्नशिप होती है।

Read More :   MP Board Result 2020, MPBSE 10th Result, mpbse 10th Result 2020 mpbse.nic.in

GNM Full Form

GNM Ka Full Form – ‘General Nursing and Midwifery’

GNM Full Form in Hindi – ‘जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी’

GNM कोर्स की फीस कितनी है ॰ GNM Course Fees in India

भारत में GNM (Diploma in General Nursing and Midwifery) Course की फीस पाठ्यक्रम प्रदान करने वाले कॉलेज और संस्थानों के आधार पर अलग-अलग होती है। भारत में औसत इस पाठ्यक्रम की शुल्क 35 हज़ार रुपए से 50 हज़ार रुपए प्रति वर्ष है।

जीएनएम कोर्स करने के बाद सैलरी ॰ GNM Course Salary in India

जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी (GNM) स्नातक में डिप्लोमा करने के बाद औसत वेतन 2.5 लाख रुपए प्रति वर्ष है। GNM करने के बाद वेतनमान उम्मीदवार के कौशल और अनुभव के आधार पर अलग-अलग हो सकता है।

G.N.M Course Overview

Course NameGNM (Nursing)
Degree TypeDiploma
GNM Course Full FormDiploma in General Nursing and Midwifery
GNM Course Duration3 Years [Study] + 6 Months [Internship]
Min Percentage50 % in [10+2]
Subjects RequiredBiology, Chemistry, Physics, Home Science, Sociology, History
GNM Average Fees in India₹ 35000 – ₹ 50000 Per Annum
Job RolesNurse, Specialist Nurse, Nursing Assistant, Nursing Attendants, Nursing Aides
Job OpportunitiesHospitals, Health Care Centres, Private clinics
Average Salary₹ 2.5 Lakh Per Annum
Similar CoursesA.N.M (Nursing), B.Sc (Nursing)

जीएनएम कोर्स ॰ GNM Course

GNM Course [डिप्लोमा इन जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी] एक हेल्थ फ़ील्ड से जुडा डिप्लोमा कोर्स है। जीएनएम नर्सिंग कोर्स की अवधि 3 वर्ष है, इसके बाद 6 महीने की इंटर्नशिप करना ज़रूरी होता है। नर्सिंग का काम स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली का एक महत्वपूर्ण कार्य है, जिसमें ऐसे व्यक्तियों की देखभाल की जाती है जो बीमार होते हैं और जिनका ध्यान रखने की आवश्यकता होती है।

GNM GNM में निम्न सब्जेक्ट को ध्यान में रख कर डिज़ाइन किया गया है:

  • स्वास्थ्य देखभाल [Health Care]
  • नर्सिंग साइंस [Nursing Science]
  • दाई का काम [Midwifery ]
  • मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देना [Promotion of Mental Health]
  • बीमारी की रोकथाम [Prevention of illness]
  • स्वास्थ्य देखभाल शिक्षण [Health Care Teaching]

GNM कोर्स के लिए पात्रता मानदंड भारत में किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं के बाद 11वीं और 12वीं में न्यूनतम 50% मार्क्स होते हैं। GNM Course [जनरल नर्सिंग और मिडवाइफरी कोर्स] देश के कई कॉलेज और संस्थानों द्वारा किया जा सकता है, जैसे –

मणिपाल कॉलेज ऑफ नर्सिंग
क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर
आर्म्ड फोर्सेस मेडिकल कॉलेज, पुणे
NIMS विश्वविद्यालय, जयपुर

जीएनएम कोर्स क्या है ॰ GNM Course Kya Hai Hindi Me

What is GNM Course in Hindi : GNM Course नर्सों के रूप में कैरियर के अवसर की तलाश कर रहे छात्रों को व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए होता है। अपने एकीकृत पाठ्यक्रम के माध्यम से GNM Course के द्वारा छात्रों को निम्न विषयों को समझने का अवसर मिलता है :

  • शरीर रचना विज्ञान और शरीर विज्ञान [Anatomy and Physiology]
  • कीटाणु-विज्ञान [Microbiology]
  • मनोविज्ञान [Psychology]
  • दाई और स्त्री रोग संबंधी नर्सिंग [Midwifery and Gynaecological Nursing]
Read More :   गुजरात सूचना : फाइनल ईयर के कॉलेज स्टूडेंट्स की टर्मिनल सेमेस्टर परीक्षा 25 जून से होगी - niodemy

GNM Course कम्प्लीट करने के बाद, छात्र राज्य नर्सिंग पंजीकरण परिषद [State Nursing Registration Council] के साथ नर्स के रूप में ख़ुद का पंजीकरण करवा सकता है। यह कोर्स रोगियों की देखभाल, पुनर्वास और उपचार पर केंद्रित है। इसके वाला GNM Nursing Course [जीएनएम नर्सिंग पाठ्यक्रम] का उद्देश्य ये होता है कि यह कोर्स करने के बाद स्टूडेंट विशेष रूप से रोगियों के कुशल और प्रभावी उपचार में डॉक्टरों की सहायता के लिए प्रशिक्षित हो चुका है।

Why choose GNM Course ॰ GNM कोर्स क्यों करना चाहिए

नर्सिंग एक ऐसा Profession है, जहाँ पर नेक दिल होना और दूसरों की मदद का स्वभाव होना ज़रूरी है। नर्स, स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।

जीएनएम व्यावसायिक प्रशिक्षण (GNM Vocational Training) किसी भी छात्र को रोगी की सफलतापूर्वक सहायता करने और उनकी त्वरित रिकवरी सुनिश्चित करने में सक्षम करता है। GNM Course के माध्यम से छात्र – रोगी की देखभाल, दवाओं और आम जनता के अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने के बारे में ज्ञान प्राप्त करते हैं।

GNM Course करने के बाद भविष्य का दायरा केवल अस्पतालों और क्लीनिकों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इस पाठ्यक्रम को पूरा करने के बाद एक छात्र शिक्षाविद, प्रोफेसर, प्रशिक्षु के रूप में कैरियर बना सकता है या उच्च शिक्षा के लिए आगे भी पढ़ सकता है।

GNM Course करने के बाद नर्स के रूप में कई तरह की जॉब की जा सकती हैं, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं :

  • नर्सिंग ट्यूटर [Nursing Tutor]
  • स्टाफ नर्स (ICU / CCU / ऑपरेशन थियेटर)
  • घर की नर्स [Home Nurse]
  • रोगियों के घर जाकर देखने वाला स्वास्थ्य कार्यकर्ता [Health Visitor]
  • नैदानिक नर्स प्रबंधक [Clinical Nurse Manager]
  • सहायक नर्सिंग अधीक्षक [Assistant Nursing Superintendent]
  • यात्रा नर्स [Travel Nurse]

जीएनएम के लिए प्रवेश परीक्षा ॰ GNM Entrance Exams

GNM Entrance Exams : GNM कोर्स में प्रवेश के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा [Entrance Exam] कॉलेजों/संस्थानों के स्तर पर अलग-अलग आयोजित की जाती है। इस कोर्स में Admission, दी जाने वाली प्रवेश परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर किया जाता है। प्रवेश परीक्षा लेने वाले कुछ कॉलेज या संस्थान निम्न हैं :

  • JIPMER GNM GNM Entrance Exam
  • AIIMS GNM Entrance Exam
  • BHU Nursing Entrance exam

जीएनएम कोर्स की तैयारी के लिए टिप्स ॰ GNM Course Preparation Tips

GNM कोर्स करने के इच्छुक स्टूडेंट कुछ स्पेशल पुस्तकों को पढ़ें, जो निम्न हैं :

  • Anatomy & Physiology [एनाटॉमी और फिजियोलॉजी]
  • Midwifery Nursing Practicals [मिडवाइफरी नर्सिंग प्रैक्टिकल]
  • Clinical Case Records for Midwives [दाइयों के लिए क्लिनिकल केस रिकॉर्ड]
  • Manual of Clinical Oncology [नैदानिक ऑन्कोलॉजी का मैनुअल]
  • Fundamentals of Nursing [नर्सिंग के बुनियादी ढांचे]

GNM Subjects ॰ GNM कोर्स में पढ़ाए जाने वाले विषय

GNM Nursing Diploma Course [डिप्लोमा इन जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी कोर्स] के 3 वर्ष के पाठ्यक्रम में कौन-कौन से विषय (Subjects) पढ़ाएँ जाते हैं, इसकी पूरी जानकारी नीचे दी गई है।

GNM 1st Year Subjects

GNM Nursing Course के पहले वर्ष (1st Year) में पढ़ाए जाने वाले विषय [Subjects] निम्न हैं :

Anatomy & Physiology [एनाटॉमी और फिजियोलॉजी]
Community Health Nursing [सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग]
Psychology [मनोविज्ञान]
Sociology [नागरिक शास्त्र]
Fundamentals of Nursing [फ़ंडामेंटल ऑफ नर्सिंग]
Microbiology [कीटाणु-विज्ञान]
GNM 1st Year Subjects

GNM 2nd Year Subjects

GNM Course के दूसरे वर्ष (2nd) में निम्न विषय [Subjects] पढ़ाए जाते हैं:

Read More :   TOEFL परीक्षा को पहली बार में ही क्लीयर करने और अपने पसंदीदा कालेज/यूनिवर्सिटी में प्रवेश पाने के लिए इन सुझावों और टिप्स का पालन करें - TOEFL Exam Tips
मेडिकल – सर्जिकल नर्सिंग पार्ट-I [Medical-Surgical Nursing-I]
मेडिकल – सर्जिकल नर्सिंग पार्ट-II [Medical-Surgical Nursing-II]
नर्सिंग एजुकेशन [Nursing Education]
मेंटल हेल्थ नर्सिंग [Mental Health Nursing]
चाइल्ड हेल्थ नर्सिंग [Child Health Nursing]
नर्सिंग प्रशासन और वार्ड प्रबंधन [Nursing Administration & Ward Management]
GNM 2nd Year Subjects

GNM 3rd Year Subjects

GNM Nursing Course के तीसरे वर्ष (3rd Year) में पढ़ाए जाने वाले विषय [Subjects] निम्न हैं :

Midwifery & Gynaecological Nursing [दाई और स्त्री रोग संबंधी नर्सिंग]
Professional Trends & Adjustments [पेशेवर रुझान और समायोजन]
Mental Health Nursing [मेंटल हेल्थ नर्सिंग]
Community Health Nursing-II [सामुदायिक स्वास्थ्य नर्सिंग-II]
GNM 3rd Year Subjects

जीएनएम कोर्स करने के लिए योग्यता ॰ GNM Course Eligibility

जीएनएम कोर्स करने के लिए योग्यता (GNM Course Eligibility) क्या होनी चाहिए? इसके बारे में नीचे जानकारी दी गई है।

GNM Course करने के लिए इच्छुक उम्मीदवार देश के किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10+2 क्लास 40 प्रतिशत मार्क्स के साथ पास किए होना चाहिए। जीएनएम नर्सिंग कॉलेज में Admission के 11वीं और 12वीं क्लास में विज्ञान के साथ English सब्जेक्ट होने ज़रूरी है।

GNM कोर्स में Admission चाहने वाले स्टूडेंट किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कुल 40% अंकों के साथ 10+2 पास हों इसके बाद अगर वो ANM Course किए हों, तो ऐसे उम्मीदवार GNM के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

NH College Bangalore से GNM करने के लिए योग्यता

NH College Bangalore यानी Narayana Health College Bangalore से GNM कोर्स करने के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए Eligibility Criteria निम्न है :

  • उम्मीदवार की उम्र कम से कम 17 वर्ष होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार की उम्र अधिकतम 35 वर्ष होनी चाहिए।
  • ANM और LHV उम्मीदवारों के लिए उम्र सीमा नही है।
  • छात्रों का प्रवेश वर्ष में एक बार होगा।
  • छात्र चिकित्सकीय रूप से फिट होने चाहिए।

पढ़ाई से संबंधित योग्यता (Minimum Education Eligibility) :

  • उम्मीदवार किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10+2 विज्ञान विषय (Physics, Chemistry and Biology) के साथ पास होना चाहिए।
    उम्मीदवार के 10+2 क्लास के Physics, Chemistry और Biology विषय में औसतन कम से कम 45% मार्क्स होने चाहिए।
  • जिन लोगों ने भारतीय नर्सिंग परिषद द्वारा मान्यता प्राप्त स्कूल से 10+2 व्यावसायिक एएनएम पाठ्यक्रम (2001 के बाद संशोधित) को पूरा किया हो।
  • ANM प्रशिक्षण यानी 10+1 O वर्षों के प्रशिक्षण में भी +2 या इसके समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए।

जीएनएम कोर्स के लिए प्रवेश प्रक्रिया ॰ GNM Course Admission Process

GNM Nursing Course में प्रवेश पाने के इच्छुक छात्रों को, संबंधित कॉलेज के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन पत्र जमा करना होगा।

ऐप्लिकेशन जमा करने के बाद, कॉलेज या संस्थान की संबंधित समिति द्वारा इन आवेदनों की समीक्षा की जाएगी। चयन होने पर उम्मीदवार को एक आधिकारिक मेल प्राप्त होगा और/या चयनित उम्मीदवारों की सूची कॉलेज की वेबसाइट पर प्रकाशित की जाएगी।

Nursing Courses के Up-Gradation के लिए सरकार द्वारा जारी की गई अधिसूचना के कारण, GNM Course को 2020 तक समाप्त कर दिया जाएगा। इस Course के लिए अंतिम प्रवेश वर्ष 2020-21 के शैक्षणिक वर्ष के लिए ही होगा। इसके बाद इस कोर्स के लिए कोई भी स्टूडेंट Admission नही ले सकता, साथ ही इसकी मान्यता भी ख़त्म कर दी जाएगी।

जीएनएम कोर्स सेलेबस ॰ GNM Course Syllabus

GNM Syllabus 1st Year

GNM Course के 1st Year का Syllabus की जानकारी नीचे दी गई है :

GNM Syllabus 1st Year
Introduction to the Detailed Structure of the Body
Introduction to Anatomical Terms Organisation of the Human Body
Immunity
Control and Destruction of Microbes
Micro-Organisms
Practical Microbiology

GNM Course Syllabus 2nd Year

GNM Course के 2nd Year का Syllabus निम्न है :

GNM Course Syllabus 2nd Year
Review of Human Growth and Development
Patient Environment in the Hospital : Patients Unit
Care of Patients with Respiratory Problems/Dyspnea
Definition, Characteristics, and Types of Family
Nursing – Concept, Meaning, Definitions, Scope and Functions
Behavioural Sciences

GNM Course Syllabus 3rd Year

GNM Course के 3rd Year के Syllabus की जानकारी नीचे दी गई है :

GNM Course Syllabus 3rd Year
Concept of Health and Disease, Dimensions and Indicators of Health, Health Determinants
Brief History of the Evolution of Modern Medicine and Surgery
Nursing Management of Patients with Connective Tissue and Collagen Disorders
Hospital Admission and Discharge
Introduction to Computers and Disk Operating System
Nursing Management of Patients with Metabolic and Endocrinal Disorders

GNM Job Scope ॰ GNM करने के बाद जॉब

GNM Course के स्नातकों के लिए नौकरी के विभिन्न अवसर उपलब्ध हैं। नौकरी के कुछ अवसर नीचे दिए गए हैं:

Nurse Supervisor [नर्स पर्यवेक्षक]
Assistant Nurse [सहायक नर्स]
Clinical Nurse [क्लिनिकल नर्स]
Registered Nurse [पंजीकृत नर्स]
Community Health Nurse [सामुदायिक स्वास्थ्य नर्स]
Nurse Educator [नर्स एजुकेटर]
Travel Nurse [यात्रा नर्स]
GNM Job Scope

Best GNM Colleges List

भारत के सर्वश्रेष्ठ जीएनएम नर्सिंग कॉलेज की लिस्ट [GNM Nursing College List] नीचे दी गई है :

College Name
Sharda University
JIPMER, Pondicherry
Manipal College of Nursing
Appolo School of Nursing, Chennai
AFMC
Aligarh Muslim University
NIMS University, Jaipur
Rabindranath Tagore University
AIIMS
CMC, Vellore
क्या GNM कोर्स मान्यता प्राप्त है?

हाँ, GNM कोर्स को भारतीय नर्सिंग परिषद (Indian Nursing Council) द्वारा मान्यता प्राप्त है, जो भारत में नर्सिंग शिक्षा का शासी निकाय है। हालाँकि Nursing Courses के Up-Gradation के लिए सरकार द्वारा जारी की गई अधिसूचना के कारण, GNM Course को 2020 तक समाप्त कर दिया जाएगा। इस Course के लिए अंतिम प्रवेश सिर्फ़ वर्ष 2020-21 के शैक्षणिक वर्ष के लिए ही होगा। इसके बाद इस कोर्स के लिए कोई भी स्टूडेंट Admission नही ले सकता, साथ ही इसकी मान्यता भी ख़त्म कर दी जाएगी।