Movie Download

गुलाबो सिताबो हिंदी मूवी – Gulabo Sitabo Movie Review, Gulabo Sitabo Trailer, Gulabo Sitabo Free Download And Watch Online

Gulabo Sitabo, Gulabo Sitabo Movie, Gulabo Sitabo Hindi Movie, Gulabo Sitabo Free Download, Gulabo Sitabo Download, Latest Hindi Movie

कोरोना वायरस की वजह से कई महीनों से पूरे देश के सिनेमा हॉल बंद पड़े हैं। पिछले तीन महीनों से किसी भी बड़े स्टार की कोई फिल्म रिलीज़ नहीं हुई है। लेकिन आखिरकार, बॉलीवुड से अब एक ख़ुशी वाली ख़बर आ रही है। Gulabo Sitabo movie को जल्द ही एक डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ करने की तैयारी हो रही है।

Gulabo Sitabo, Gulabo Sitabo Movie, Gulabo Sitabo Hindi Movie, Gulabo Sitabo Free Download, Gulabo Sitabo Download, Latest Hindi Movie
Gulabo Sitabo Movie

Gulabo Sitabo movie में आयुष्मान खुराना और अमिताभ बच्चन की जोड़ी नज़र आने वाली है। आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) और अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) की जोड़ी के बदौलत यह Gulabo Sitabo movie काफ़ी बड़ी मानी जा रही है।

आपको बता दें की Gulabo Sitabo movie के Director (निर्देशक) शूजीत सिरकार (Shoojit Sircar) हैं। शूजीत सिरकार (Shoojit Sircar) ने दोनों अभिनेताओं के साथ कई यादगार फिल्में बनाई हैं जैसे की Vicky Donor (2012) और Piku (2015)।

तो क्या इन बड़े अभिनेताओं की बदौलत Gulabo Sitabo Movie (New Hindi Movie) डिजिटल प्लेटफॉर्म पर सफल हो पाएगी। क्या Gulabo Sitabo Hindi Movie को भी यादगार बनाया जा सकता है? या फिर यह Gulabo Sitabo Hindi Movie हिंदी सिनेमा के दर्शकों को लुभाने में विफल रहती है? आइए जानते हैं। आज हम Gulabo Sitabo movie का Review आपको बताते हैं और साथ में ये भी की How to Download : Gulabo Sitabo Movie Download

Gulabo Sitabo Cast & Crew Full Detail:

Primary Starcast of Gulabo Sitabo Movie : अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) और आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana)
Gulabo Sitabo Movie Release Date : 12 June, 2020
Gulabo Sitabo Status : रिलीज हो चुकी है।
निर्माता (Producer) : रॉनी लाहिड़ी (Ronnie Lahiri) और शील कुमार (Sheel Kumar)
Gulabo Sitabo Movie Genre : Comedy, Drama, Family कॉमेडी, ड्रामा और फैमिली

बैनर :

राइजिंग सन फिल्म्स प्रोडक्शन (Rising Sun Films Production)
कीनो वर्क्स (Kino Works)

Gulabo Sitabo Movie Star Cast Detail:

  • आयुष्मान खुराना – बांके नाम से
  • अमिताभ बच्चन – मिर्जा के रूप में
  • बृजेंद्र काला – क्रिस्टोफ़र क्लार्क नाम से एक वक़ील
  • विजय राज – Gulabo Sitabo Movie में एक सरकारी ऑफ़िसर जिनका नाम ज्ञानेश शुक्ला होगा।
  • सृष्टि श्रिवास्तव – Gulabo Sitabo Movie में गुड्डो नाम
  • फ़ारूख ज़फ़्फ़र – बेगम के नाम से

Gulabo Sitabo Movie Background Music

शान्तनु मोइत्रा

Gulabo Sitabo Movie के लेखक (Writer)

जूही चतुर्वेदी

Gulabo Sitabo Movie Censor Details:

  • Movie Runtime : 2 Hours 4 Minutes
  • सेन्सर Date : अभी उपलब्ध नही।
  • Certificate No : उपलब्ध नही।

Gulabo Sitabo Movie Language:

हिंदी

Music Director of Gulabo Sitabo Movie:

अनुज गर्ग, अभिषेक अरोरा, शान्तनु मोइत्रा

Gulabo Sitabo Movie Director:

शूजित सिरकर

इसे भी पढ़ें :   Class Of 83 Movie Download - Release Date, Review, Cast, Class Of 83 Netflix Original

Gulabo Sitabo Movie Dialogue:

जूही चतुर्वेदी

Gulabo Sitabo Movie Lyricist:

दिनेश पंत, विनोद दुबे, पुनीत शर्मा

Gulabo Sitabo Movie Music Company

Zee Music Company

Gulabo Sitabo Movie Shooting Location:

Country : India

Gulabo Sitabo Movie Playback Singers:

तोचि रैना, अनुज गर्ग, पीयूष मिश्रा, मिका सिंह, विनोद दुबे, भँवरी देवी, राहुल राम, बॉबी कैश

Gulabo Sitabo Movie Story : Gulabo Sitabo Movie की कहानी :

Gulabo Sitabo Movie एक किरायेदार और मकान मालिक के बीच प्रतिद्वंद्विता की कहानी है। Gulabo Sitabo Movie की कहानी के अनुसार मिर्ज़ा चुन्नन नवाब (अमिताभ बच्चन) जिनकी उम्र इस मूवी में 78 साल है, फातिमा बेगम (फारुख जाफ़र) से शादी की, जो उनसे लगभग 17 साल बड़ी है। बेगम लखनऊ में एक सदी से भी अधिक पुरानी हवेली “फातिमा महल” की मालिक हैं, जहाँ वह रहती हैं।

लेकिन चूंकि वह काफी बूढ़ी हैं और भूलने की बीमारी भी है, इसलिए मिर्जा इस हवेली की देखभाल करते हैं। उन्होंने ‘फातिमा महल’ का एक हिस्सा किरायेदारों को दे दिया। किरायेदारों में से एक बाॅंके रस्तोगी (आयुष्मान खुराना) है। बाॅंके का परिवार हवेली में किरायेदारों के रूप में रह रहा है और मिर्जा अब बाॅंके और उसके परिवार को ‘फातिमा महल’ से निकालना चाहते हैं क्योंकि वे किराया बहुत कम दे रहे हैं। केवल 30 रुपए मासिक किराए के रूप में वो किराया देते हैं।

मिर्ज़ा ने जब भी किराया बढ़ाने की मांग की। उन्हें हमेशा बाॅंके के कड़े प्रतिरोध का सामना करना पड़ता है। पैसे की कमी की वजह से मिर्ज़ा भी हवेली का जीर्णोद्धार करने में सक्षम नहीं है और यह पूरी तरह से जर्जर स्थिति में है। हालत इतनी खराब है कि बाॅंके की एक मात्र शौचालय की दीवार भी टूट जाती है। इसके लिए मिर्जा, बाॅंके से हर्जाने की माँग करते हैं, जबकि बाॅंके का कहना है की रखरखाव की जिम्मेदारी जमींदार की है। फिर यह मामला पुलिस तक पहुंचता है, जो उन्हें इस विवाद को सिविल कोर्ट में ले जाने के लिए कहते हैं।

पुलिस स्टेशन में, पुरातत्व विभाग के ज्ञानेश शुक्ला (विजय राज) ने भी हंगामा मचाया। पुरातत्व विभाग का कहना है की फातिमा महल देश की एक विरासत संपत्ति है। वह चुपके से तस्वीरें क्लिक करना शुरू कर देता है लेकिन बाॅके उसे रंगे हाथ पकड़ लेता है। ज्ञानेश हालांकि उसे और अन्य किरायेदारों को बताता है कि हवेली देश की विरासत है और लेकिन जीर्णोद्धार ना होने से कभी भी ढह सकती है। इसलिए उसे काम करने दें।

इसे भी पढ़ें :   SkymoviesHD – Hindi Movies Free Download, Download Free Hollywood Movies, sky movies - Legal or illegal?

ज्ञानेश शुक्ला ने सिफारिश की कि वे फातिमा महल को अपने विभाग को सौंप देंगे, जो इसे पुनर्निर्मित करेंगे और संग्रहालय में बदल देंगे। इसके बदले में, पुरातत्व विभाग उन्हें सभी सुविधाओं से सुज्जजित फ्लैट देगा। दूसरी तरफ मिर्ज़ा, एक वकील क्रिस्टोफर क्लार्क (बृजेन्द्र काला) से मिलता है, जो बताता है कि समस्याओं को हल करने के लिए हवेली को बेच देना चाहिए। इस सौदेबाजी में, उसे बड़ी राशि भी मिलेगी।

हालांकि, इस संपत्ति के कई और भी मालिक हैं लेकिन बेगम की याददाश्त कमज़ोर होने की वजह से उसे पता नई होता, की इस महल का स्वामित्व और किसके पास है। शायद उसके भाई-बहनों के पास भी स्वामित्व हो सकता है। नतीजतन, मिर्जा यह पता लगाने की कोशिश करते हैं की बेगम के परिवार के कौन-कौन जीवित हैं और कौन उसे हवेली को बेचने के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र दे सकते हैं। आगे क्या होता है, इसके लिए आपको फिल्म ज़रूर देखनी चाहिए…. अब अगर पूरी जानकारी दे देंगे तो आपका Gulabo Sitabo movie देखने का मज़ा बेकार हो सकता है। इसलिए सस्पेन्स के साथ movie देखें।

Gulabo Sitabo movie जूही चतुर्वेदी द्वारा लिखी एक बेहतरीन कहानी:

Gulabo Sitabo movie समाज के कुछ अनछुए पहलुओं को दिखाती है। हमने किरायेदारों द्वारा सामना की जाने वाली भयावहता के बारे में फिल्मों को पढ़ा और देखा है। लेकिन जमींदार को गलत तरीके से परेशान किया जाना भी एक वास्तविकता है और उस पहलू पर ध्यान केंद्रित करने के लिए यह एक दुर्लभ फिल्म है। जूही चतुर्वेदी की पटकथा, हालांकि, अवधारणा के साथ पूर्ण न्याय नहीं करती है। फिल्म को कुछ दिलचस्प किरदारों और सेटिंग के साथ देखा गया है और उनके साथ बहुत कुछ किया जा सकता था। हालांकि, जूही अवसर को खोने नही देती हैं। जूही चतुर्वेदी की कहानी की संवाद शैली बहुत सरल है, इनमें से कुछ काफी तीखे और मजाकिया भी हैं।

शूजीत सरकार निर्देशक के रूप में बेहतरीन काम किया:

शूजीत सरकार का निर्देशन काफ़ी अच्छा माना जाएगा। उनके हाथ में एक कमजोर स्क्रिप्ट थी और इसलिए, उनके पास वैसे भी बहुत कुछ नहीं था। हालांकि, हमने विकी डोनर (Vicky Donor) और Piku जैसी फिल्मों में उनके प्रदर्शन का आकर्षण देखा है। Gulabo Sitabo movie भी उसी क्षेत्र में है, लेकिन उसकी दिशा वांछित होने के लिए बहुत कुछ छोड़ देती है। मूवी का सकारात्मक पक्ष यह है कि इसमें लखनऊ के सार को खूबसूरती से पकडा गया है। बड़े पर्दे पर, इसका अनुभव करना दिलचस्प होता। वह अपने अभिनेताओं से शानदार प्रदर्शन भी करवाते हैं। फ़्लिपसाइड पर, हास्य गायब है और इससे बहुत अंतर होता। इसके अलावा, कुछ घटनाक्रम चौंकाने वाले हैं और यह विशेष रूप से मिर्जा के चरित्र के संबंध में है। एक तरफ, वह काफी समझदार और पैसे वाला था, जिससे उसने बेगम से शादी की। लेकिन दूसरी ओर, वह काफी साधारण भी था, जो अपने द्वारा बेची जाने वाली वस्तुओं और यहां तक कि उस हवेली के उचित मूल्य को भी नहीं जानता था, जिसमें वह कई दशकों से रह रहा है।

इसे भी पढ़ें :   Gulabo Sitabo Full Movie Download FilmyWap, FileZilla, TamilRockers Leaked Online HD Quality

Gulabo Sitabo movie को एक सभ्य मूवी कह सकते हैं:

Gulabo Sitabo movie का बैकग्राउंड स्कोर और यहां तक कि परिस्थितियां एक कॉमिक सेपर का रूप देती हैं, लेकिन फिल्म में शायद ही कोई मजेदार क्षण हो। यह तभी होता है जब मिर्ज़ा सड़क के बीच में उठता है। ज्ञानेश शुक्ला और क्रिस्टोफर क्लार्क के बीच शुरुआत के बाद से चीजें बेहतर हो गई हैं और यह मिर्जा और बाँके के बीच के खेल को बढ़ाता है। हालांकि फिल्म एक झलक देती है, लेकिन किसी भी पात्र के साथ कुछ रोमांचक या मजेदार करने से चूक जाती है। ऐसा केवल आखिरी 10-15 मिनट में होता है। कहानी में मोड़ निश्चित रूप से अप्रत्याशित है और हालांकि यह पूरी तरह से असंबद्ध नहीं है, यह फिल्म को एक महान नोट के साथ समाप्त करता है।

Gulabo Sitabo movie में अमिताभ बच्चन दमदार प्रदर्शन :

अमिताभ बच्चन इस Gulabo Sitabo movie में अपना दमदार प्रदर्शन करते हैं। उनका मेकअप स्पॉट-ऑन है और वह अपने किरदार में पूरी तरह से ढल जाते हैं। वह अपने भावों के माध्यम से ही प्रभाव डालते हैं। आयुष्मान खुराना भी काफी मनोरंजक हैं लेकिन उनका स्क्रीन टाइम अमिताभ से कम है। Shubh Mangal Zyada Saavdhan (2020) Movie के बाद यह दूसरी बार है जब आयुष्मान ने विस्तारित सहायक भूमिका के लिए समझौता किया है।

फ़ारुख जाफ़र की महत्वपूर्ण भूमिका है और फिल्म में अपना निशान छोड़ता है। वह वास्तव में दूसरे हाफ में दो महत्वपूर्ण दृश्यों में सामने आता है। विजय राज और बृजेन्द्र काला हमेशा की तरह भरोसेमंद हैं। सृष्टि श्रीवास्तव (गुड्डो) काफी आत्मविश्वासी हैं। पूर्णिमा शर्मा (फौज़िया), अनन्या द्विवेदी (नीतू), उजली ​​राज (पायल), सुनील कुमार वर्मा (मिश्रा जी), जोगी मल्लंग (मुनमुन जी), राजीव पांडे (पुलिस निरीक्षक) और बेहराम राणा (अब्दुल रहमान) जैसे अन्य लोग भी बेहतर प्रदर्शन करते हैं।

Comment here