हिम्मत की कीमत: जीवन की अनमोल दौलत (हिंदी कविता | Hindi Poem)

हिम्मत की कीमत हिंदी कविता: हिम्मत, एक ऐसा शब्द जो किसी भी इंसान की जिंदगी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह हमें न केवल कठिनाइयों का सामना करने की शक्ति देता है बल्कि हमें हमारे लक्ष्यों तक पहुँचाने में भी मदद करता है। इस लेख में हम तीन अद्वितीय कविताओं के माध्यम से हिम्मत की क़ीमत और उसकी अहमियत को जानेंगे।

कविता 1: हिम्मत की कीमत (Himmat Ki Keemat – Hindi Poem)

हिम्मत की कीमत अनमोल होती है,  
जीवन के संघर्ष में जो तोल होती है।
हर मुश्किल राह को आसान बनाती,
आंधियों में भी दीप जलाती।

जब अंधेरों का साया घेरता है,
हिम्मत ही वो किरन है, जो राह दिखाती है।
दर्द और दुखों में मुस्कान लाती,
टूटे हुए दिलों में फिर से जान फूंक जाती।

हिम्मत के बिना सब सपना अधूरा,
ये ही तो है वो दर्पण, जो दिखाए सजीव पूरा।
हर कदम पर ये साथी बनकर चलता,
सपनों को सच करने की राह दिखलाता।

लाख तूफान आए, पर न कभी झुके,
हिम्मत के आगे हर चुनौती थमे।
समय के साथ-साथ ये और भी निखरती,
संघर्षों में हीरे-सी चमकती।

जीवन के इस रण में योद्धा बन जाओ,
हिम्मत की ताकत को पहचानो, जान जाओ।
हर कठिनाई में जो तुम्हारा साथ निभाए,
उस हिम्मत को सलाम, जो हर दर्द भुलाए।

हिम्मत की कीमत, इंसान की पहचान,
इसके बिना सब कुछ है बेजान।
ये वो आग है, जो जलाए उम्मीद की ज्योत,
हिम्मत की कीमत, है सच्चे जीवन का सार।

- दिनेश सिंह

कविता 2: हिम्मत की कीमत

हिम्मत की कीमत नहीं होती चंद सिक्कों में,
ये वो दौलत है, जो बसती है दिलों में।
हर पतझड़ में जो बहार ले आए,
दुखों की आंधियों में जो छाँव बन जाए।

जीवन की राहों में कांटे बिछे हो चाहे,
हिम्मत के कदम उन पर भी चल जाए।
गिरकर भी जो उठने का हुनर सिखाए,
न हार माने, ना कभी रुक जाए।

सपनों के परों को जो उड़ान दे,
हर ठोकर को भी सम्मान दे।
जो आँसुओं में भी मुस्कान खोज ले,
और दर्द को भी एक नयी पहचान दे।

हिम्मत की कीमत है रिश्तों की जान,
ये वो धागा है, जो जोड़े दिलों के म्यान।
हर मुश्किल में जो साथ निभाए,
हर चुनौती से जो टकराए।

जब दुनिया कहे "नामुमकिन है ये",
हिम्मत ही बोले "मुमकिन है सब कुछ"।
जीत की हसरत को जो परवाज़ दे,
हार को भी जो सिखा दे, कैसे जीतें।

हिम्मत की कीमत, है अनमोल खजाना,
ये वो रास्ता है, जो दिखाए ठिकाना।
दूर हो चाहे मंजिल कितनी भी दूर,
हिम्मत ही है, जो हर मुश्किल को चूर।

संघर्षों में भी जो मुस्कुराना सिखाए,
जीवन के हर पल को जो जश्न बनाए।
हिम्मत की कीमत को समझो यार,
ये है जिंदगी का असली आधार।

- दिनेश सिंह

कविता 3: हिम्मत की क़ीमत (Hindi Poem – Himmat Ki Keemat)

हिम्मत की क़ीमत कोई क्या जाने,
यह वो रत्न है, जो हर दिल को पहचाने।
अंधेरों में जो रोशनी बिखेरे,
नाउम्मीदी में भी उम्मीदें उभारे।

जब रास्ते में हो कांटे और पत्थर,
हिम्मत ही है जो दिलाए सच्ची मंजिल पर।
हर मुश्किल को पार कराती,
डगमगाती नाव को किनारा दिखलाती।

चोट खाकर भी जो मुस्कुराना सिखाए,
गिरकर भी जो उठकर चलना सिखाए।
हर दर्द को सहने का साहस दे,
दिल में जोश और जुनून भर दे।

कभी ना रुके, ना थमे, ना झुके,
हिम्मत ही है जो हर घड़ी संग चले।
हर डर को मात दे, हर भय को मिटाए,
जो चाहे उसे, वो सब कुछ दिलाए।

रात की कालिमा में जो सबेरा लाए,
हिम्मत की क़ीमत, हर दिल को भाए।
हर संघर्ष को हंसी में बदल दे,
हर आँसू को मुस्कान में बदल दे।

जो हिम्मत का मोल समझे, वो ही सच्चा वीर,
जीवन के हर मोड़ पर पाए मंजिल की लकीर।
हिम्मत की क़ीमत, अनमोल है प्यारे,
ये वो खज़ाना है, जो सब पर वारे।

हर धड़कन में जो हिम्मत की गूंज हो,
हर कदम पर जो सफलता की धुन हो।
उस हिम्मत को सलाम, जो हर दिल में बसी,
हिम्मत की क़ीमत, है सच्चे जीवन की खुशी।

- दिनेश सिंह

निष्कर्ष

हिम्मत एक ऐसी शक्ति है, जो हमें हर मुश्किल का सामना करने की ताकत देती है। यह हमारे भीतर छिपी वो ताकत है, जो हमें न केवल गिरने से बचाती है, बल्कि हर बार उठने और आगे बढ़ने की प्रेरणा भी देती है। इन कविताओं के माध्यम से हमने हिम्मत की क़ीमत को समझा और इसके महत्व को पहचाना। हिम्मत ही है, जो जीवन को सच्चे अर्थों में जीने लायक बनाती है।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Scroll to Top