Indian Zoom App Alertnative Download

Desi Zoom

पूरी दुनिया में कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन लगा हुआ है. ऐसे में पूरी दुनिया में सरकारें और कम्पनीज़ वर्क फ़्रोम होम (घर से काम) करने को बढ़ावा दे रही हैं. इसके लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की डिमांड दुनिया भर में बढ़ गई है. इसमें सबसे ज़्यादा फ़ायदा जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप को हुआ है.

Zoom Alternative Indian App

पिछले तीन हफ्तों में ही जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप के उपयोगकर्ताओं में 50% से ज़्यादा (300 मिलियन) नए यूजर्स की वृद्धि हुई. कुछ समय पहले ही जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप पर डेटा हैकिंग और लीक को लेकर पूरी दुनिया में शोर-शराबा हुआ था. कई सरकारों और फर्मों ने अपने यहाँ सुरक्षा की ख़ामी की वजह से जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया था.

Zoom Like Indian Apps

ऐसे में कम्पनी ने अपनी सुरक्षा को मजबूत किया और फिर से वापस सही दिशा में काम करने लगी है. इसी बात को ध्यान में रखते हुए और पूरी दुनिया में भविष्य में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप की होने वाली डिमांड को देख कर सरकार ने भारतीय कम्पनीज को आगे बढाने का फैसला किया. इसके लिए सरकार एक योजना लाई थी की जो कम्पनी जूम जैसा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप बनाएँगी उसे सरकार की तरफ से फंड दिया जाएगा.
सरकार की इस योजना का फ़ायदा उठाने और पूरी दुनिया में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप की डिमांड को पूरा करने के लिए कई भारतीय टेक कम्पनीज आगे आई हैं और अपना वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप डेवेलप कर रहीं हैं. अब उनमे से सरकार ने 10 कंपनियों का चयन कर लिया है.

Zoom Alternative in India

जूम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप को लेकर पूरी दुनिया में होने वाले शोर-शराबें की कुछ बातें आगे हम आपको बता रहें हैं-
जूम ऐप के मुख्य कार्यकारी एरिक युआन ने zoom की सुरक्षा को लेकर अगले 90 दिनों के लिए कुछ योजनाएँ बनाई हैं. और उन्होंने बताया की अधिक एन्क्रिप्शन सुविधाओं के साथ ऐप का नया वर्ज़न जल्द update किया जाएगा.
जूम ऐप में सुरक्षा ख़ामी की वजह से न्यूयॉर्क शेयर मार्केट में जूम के शेयर लगभग 5% तक गिर गए और 150.25 डॉलर/शेयर के महीने के अपने सबसे निचले स्तर पर आ गए.
जर्मन कार निर्माता डेमलर ने गुरुवार को कहा कि उसने अपने काम में जूम ऐप में सुरक्षा ख़ामी की वजह से  इसे बैन कर दिया है. अब कम्पनी का कोई कर्मचारी इसे उपयोग नही कारेगा.

Zoom Like Apps In India

मर्सिडीज-बेंज के प्रवक्ता क्रिस्टोफ सेडलेमर ने कहा – यह हमारी कंपनी की सुरक्षा आवश्यकताओं का पालन नहीं करता है। इसलिए हम अगली सूचना तक कॉर्पोरेट कामों के लिए ज़ूम के उपयोग पर प्रतिबंध लगाते हैं।
ब्लूमबर्ग न्यूज ने भी बताया कि वायरलेस टेक्नोलॉजी फर्म NXP ने बाहरी पार्टियों के साथ ऐप के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है, और स्वीडन के एरिक्सन के कर्मचारियों को इसका उपयोग न करने की सलाह दी गई थी।
एलोन मस्क का उद्यम स्पेसएक्स, एशिया-केंद्रित बैंक स्टैंडर्ड चार्टर्ड और साथ ही जर्मनी, ताइवान, भारत और सिंगापुर की सरकारें भी इस ऐप को बैन कर चुकी हैं.

Zoom Like Indian Apps

विश्वभर में कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन की वजह से जूम, स्काइप या माइक्रोसॉफ्ट के टीम्स जैसे एप्लिकेशन प्लेटफार्मों के उपयोग में भारी वृद्धि की है. पिछले महीने जूम ने बताया कि उसके पिछले साल की तुलना में उपयोगकर्ता की संख्या में 2000% की वृद्धि दर्ज हुई है।
जूम ने इन चिंताओं को दूर करने और सुरक्षा ख़ामी को ख़त्म करने के लिए फेसबुक सुरक्षा के पूर्व प्रमुख एलेक्स स्टामोस और कई अन्य विशेषज्ञों को नियुक्त किया है.

Indian Zoom

ज़ूम के एक सुरक्षा सलाहकार Lea Kissner ने कहा की सभी ज़ूम ऐप 30 मई से नई क्रिप्टोग्राफिक मोड में स्विच हो जाएगा. फ़्यूचर में यह 256-बिट एन्क्रिप्शन पर काम करेगा.
Zoom कम्पनी पर चीनी सर्वरों का उपयोग करने और डेटा रिकार्ड करने का भी आरोप था इसके लिए कम्पनी ने कहा की नए update के साथ यूज़र अब अपनी पसंद का डेटा केंद्र क्षेत्र चुन सकता है.
Read More :   What is UTS Apps, How to use UTS Apps for Railway Paperless General Ticket, Railway e-General Ticket