JioJioMartTechnology

Reliance Jio Mart लॉन्च हुआ – जानिए भारत के ई-कॉमर्स पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा?

jiomart, jio mart news, jio mart, Jio news

JioMart – पिछले एक महीने में रिलायंस इंडस्ट्रीज के स्वामित्व वाले Jio प्लेटफार्म में कई बड़े निवेश हुए हैं। वास्तव में $10 बिलियन से अधिक का निवेश Jio में हो चुका है। अब इसके साथ Google भी 30,000 Cr Rs investment करने वाला है।

Jio Mart को Reliance की रिटेल चेन और Jio Retail की साझेदारी में विकसित किया गया है। बहुत जल्द ही JioMart ने 200 शहरों और कस्बों में अपनी सेवाओं का विस्तार किया। इसमें दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता और बेंगलुरु जैसे बड़े शहर शामिल हैं।

200 शहरों में रोलआउट से पहले JioMart की सेवा मुंबई के तीन अलग-अलग इलाकों में उपलब्ध थी। JioMart के CEO ने ट्विटर पर कहा कि किराने का सामान, डेयरी आइटम, फल, सब्जियां की डिलीवरी जल्द शुरू कर दी जाएगी।

JioMart के आने से ई-कॉमर्स में कब्ज़े के लिए प्रतिद्वंदिता तेज होगी –

JioMart के लॉन्च के साथ भारतीय ई-कॉमर्स क्षेत्र में Amazon India, Wallmart के स्वामित्व वाला Flipkart, Alibaba समर्थित BigBasket और Tencent वित्त पोषित Udaan जैसे shopping portal के बीच लड़ाई तेज होगी।

इस मार्केट में इनके अलावा Grofers, Swiggy’s Supr Daily, Crofarm, Ninjacart और Milkbasket जैसे platform भी हैं। ताज़े प्रोडक्ट्स के लिए और किराने का समान के शॉपिंग के लिए इन सभी platforms के बीच अब प्रतियोगिता बढ़ना तय है। इसके साथ ये भी तय है की अगर Reliance और Jio मिलकर जैसे Telecom sector में अपने प्रतिद्वंदियों को हरा दिया था। ठीक उसी तरह भारत के ई-कॉमर्स क्षेत्र में भी JioMart अपना दबदबा बना सकता है। इसके साथ ये भी नही भूलना चाहिए की Wallmart समर्थित Flipkart और Amazon के पास भी अकूत पैसा है। ऐसे में इस मार्केट में क़ब्ज़े के लिए इन तीनों के बीच ही competition देखने को मिल सकता है। बाक़ी platform या तो ख़त्म हो सकते हैं या फिर इन तीन में से किसी में इनका विलय हो सकता है। इस साल के अंत तक Flipkart भी पूरी तरह से wholesale business के मार्केट में उतर सकता है।

भारत का ई-किराना बाजार का आकार 6201 करोड़ रुपये ($ 875 मिलियन) है, और 2023 तक 1.03 लाख करोड़ रुपये ($ 14.6 बिलियन) तक तेजी से बढ़ने की उम्मीद है। सभी कंपनियों को पता है कि वे केवल सतह को खरोंच रहे हैं और इसलिए एक मजबूत पैर जमाने के लिए महत्वाकांक्षी योजनाओं का अनावरण करना ज़रूरी है।

इसे भी पढ़ें :   JioMart पर विक्रेता कैसे बनें ? और खुदरा विक्रेता Jiomart से पैसा कैसे कमाएँ ?

Jio Mart को अपना मॉडल बनाना पड़ेगा :

टेलीकॉम सेक्टर में रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने जो खलबली मचाई थी, वह शायद भारत के इस अल्ट्रा-प्रतिस्पर्धी ई-किराना बाजार में बिल्कुल आसान नहीं है। Jio Mart इन चुनौतियों को समझता है, और इसलिए मौजूदा खिलाड़ियों से अलग रास्ता अपना रहा है।

अधिकांश ई-किराना स्टोर जैसे कि BigBasket और Grofers इन्वेंट्री-आधारित ई-कॉमर्स व्यवसायों का अनुसरण कर रहे हैं, जो ब्रांडेड वस्तुओं को स्टोर करते हैं और वितरित करते हैं, जबकि JioMart केवल मौजूदा mom-and-pop स्टोर्स और खरीददारों के बीच एक बिचौलिए के रूप में कार्य करता है, इन mom-and-pop stores को Kirana के रूप में जाना जाता है। Jio कोशिश कर रहा है की आपके पड़ोस में जो भी किराना की दुकान है वो उसके JioMart platform के साथ जुड़ जाए और सभी shoppers इसी का use करें। Jiomart मुख्य रूप से आपके पड़ोस की दुकान को टार्गेट कर रहा है, ताकि आपको दुकान जानें की ज़रूरत ही ना पड़े।

Jio Mart देश भर के हजारों mom-and-pop स्टोर्स पर पहुंच चुका है। Reliance Jio की कोशिश है की वह Jiomart में अधिक से अधिक उपभोक्ताओं को जोड़ने के लिए आपके पड़ोस में मौजूद इन दुकानों की व्यापक पहुंच का फायदा उठाये। Jio Mart ने चालाकी से इन स्टोर्स के साथ एक डील की है जिसके द्वारा यह बैकएंड पर ऑटोमेशन के साथ बिजनेस को स्केल करने में मदद करेगा। Jiomart के द्वारा इस तरह की किराना दुकानों को जोड़ने का मक़सद है की वह देश के हर नागरिक तक अपनी पहुँच बढ़ा सके। साथ में दुकानदारों को बिना किसी अतिरिक्त लागत के अधिक उपभोक्ताओं तक पहुंच प्रदान कर सके।

Jio Mart, रिलायंस रिटेल के साथ साझेदारी करके उसके 6600 से अधिक शहरों में मौजूद 10415 स्टोर की कोल्ड स्टोरेज और वेयरहाउसिंग सुविधाओं का उपयोग अपने फ़ायदे के लिए करना चाहता है।

इसे भी पढ़ें :   JioMart क्या है और JioMart कैसे काम करता है ?

माना जाता है कि Jio Mart एक डिजिटल स्टोरफ्रंट है जो रिलायंस रिटेल के डिस्ट्रीब्यूशन सेंटर्स, इसके B2B कैश एंड कैरी बिज़नेस- Reliance Market, आपके पड़ोस के mom and pop स्टोर्स और रिलायंस के स्वामित्व वाले अन्य संगठित रिटेल आउटलेट्स को एक साथ लाता है।

लेकिन JioMart ने अभी केवल एक ब्राउजर आधारित साइट का अनावरण किया है, जो उपयोगकर्ताओं के पोस्टल कोड के आधार पर ऑर्डर लेता है। Company का कहना है की JioMart App जल्द ही लॉन्च किया जाएगा।

क्या WhatsApp, Jiomart कहानी का नायक हो सकता है ?

लगता है की Jio Mart जल्द ही WhatsApp को shopping के नए मैदान में ले आएगा। Jio Mart के लिए WhatsApp महत्वपूर्ण कड़ी है। यह एक लॉजिस्टिक्स नेटवर्क, kirana store द्वारा डिलीवरी सुनिश्चित करने के साथ (बिजनेस-टू-कंज्यूमर) भुगतान की पेशकश भी प्रदान कर सकता है।

आज भारत में लगभग सभी smartphone user Whatsapp का use करते हैं। ऐसे में अगर JioMart को इससे Integrate करके सर्विस दी जाएगी तो निश्चित रूप से Jiomart को बहुत ज़्यादा फ़ायदा होने वाला है। हो सकता है की Jiomart और whatsapp की साझेदारी से JioMart जल्द ही देश का नम्बर एक Online Kirana store बन सकता है।

यही वह वजह है, जिसके कारण Facebook के साथ Jio Platforms का टाई-अप हुआ है। Facebook ही Whatsapp का मालिक है, ऐसे में Facebook और Whatsapp दोनों से एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की उम्मीद है।

अब देखना ये है की JioMart, भारत के 400 मिलियन Whatsapp उपयोगकर्ताओं को कैसे अपने साथ जोड़ता है। Jio Mart खरीदारी की सुविधा को एकीकृत करने और अधिक से अधिक उपयोगकर्ताओं तक पहुंचने के लिए खुद Facebook Messenger और Facebook App की सहायता लेगा।

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने इशारा किया था कि Jio प्लेटफ़ॉर्म के साथ क्या सौदा किया गया था। उन्होंने कहा था कि – “भारत हमारे लिए एक विशेष स्थान है। हम कुछ महत्वपूर्ण परियोजनाओं पर एक साथ काम करने के लिए भी प्रतिबद्ध हैं जो हमें लगता है कि भारत में वाणिज्य के लिए बहुत सारे अवसर खोलने जा रहे हैं। फेसबुक और व्हाट्सएप पिछले दो वर्षों से अपने सभी प्लेटफार्मों पर छोटे और मध्यम व्यवसायों को लाने की कोशिश कर रहा है।”

इसे भी पढ़ें :   भारत सरकार ने Zoom जैसा देसी platform बनाने के लिए 10 भारतीय कंपनियों का चयन किया - Technology News, Gadget News

WhatsApp Pay, जिसे India में लॉंच करने में कई कारणों की वजह से देरी हुई है। हालांकि इसके जल्द ही लॉन्च होने की उम्मीद है। WhatsApp Pay के लॉंच होने के बाद यह भारत की Digital Payment Industry के लिए यह गेम-चेंजर हो सकता है। WhatsApp अपने UPI-आधारित भुगतानों को मजबूत करने के लिए प्रायोजक बैंक के रूप में Jio Payment Bank का उपयोग करेगा। इससे दोनों companies का फ़ायदा है।

Jiomart और भारत की किराना इंडस्ट्री का दिलचस्प समय आने वाला है

एक बार सब कुछ सेट हो जाने के बाद Jio Mart अपने व्हाट्सएप बिजनेस अकाउंट के साथ व्हाट्सएप पर सिंगल-विंडो शॉप की पेशकश करने की स्थिति में होगा। उपयोगकर्ताओं को बस इसे खोलना है और अपनी लोकेशन बता कर ऑर्डर देना शुरू कर सकते हैं। इसके अलावा वे अपने ऑर्डर को इसी से ट्रैक कर सकते हैं और अपने बिल का भुगतान सीधे Whatsapp पर ही कर सकते हैं।

इस सब के बीच जैसा कि Jio Mart मूल रूप से स्थानीय किराना दुकानों को सशक्त बनाता है। ऐसे में Jio Mart प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘vocal for local‘ का समर्थन करने का दावा भी कर सकता है। अगर Jiomart ऐसे कोई marketting स्ट्रैटेजी use करता है, तो उसे निश्चित रूप से फ़ायदा होने वाला है।

लेकिन हम ये भी उम्मीद करते हैं की Amazon, Wallmart जैसे खिलाड़ी पीछे नही हटने वाले हैं। वो भी अपनी रणनीतियों के साथ आएँगे। ये companies Jiomart के आगे घुटने टेकनों वालों में से नही हैं जैसा कि Jio के आने के बाद कई Telecom companies बंद हुई थी।

वैसे भी भारत में ई-किराना क्षेत्र में चीजें अभी शुरूआती लेवल में ही हैं। Jiomart का असली इम्तिहान तो लॉकडाउन ख़त्म होने के बाद शुरू होगा।

Comment here