DevotionalNostradamus

भारत के बारे में नास्त्रेदमस ने क्या भविष्यवाणियां की थी? Nostradamus Predictions about India

Nostradamus Predictions about India

नास्त्रेदमस, फ्रांसीसी चिकित्सक और ज्योतिषी थे, आज से कई सौ साल पहले ही उन्होंने दुनिया के बारे में कई भविष्यवाणियाँ कर दी थी। नास्त्रेदमस अपनी भविष्यवाणियों को सच होने के लिए प्रसिद्ध है।

उनके द्वारा की गई भविष्यवाणियाँ आज के समय में भी सटीक होती हैं। ऐसा माना जाता है कि उनकी 800 भविष्यवाणियां सच हो चुकी हैं। उन्होंने भारत के लिए कई शानदार भविष्य की भविष्यवाणी की। लगभग 500 वर्ष पहले नास्त्रेदमस ने ये भविष्यवाणियां की थीं।

आइए आपको बताते हैं भारत के बारे में नास्त्रेदमस ने क्या भविष्यवाणियां की थी? Nostradamus predictions for India

नास्त्रेदमस की भारत के लिये भविष्यवाणी : Nostradamus Predictions about India –

1. भारत में जन्म लेगा दुनिया का मसीहा :

नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी के अनुसार जब पूरी दुनिया में असंतोष फैल जाएगा। दुनिया के तमाम नेता फ़ेल साबित होंगे। तब भारत से दुनिया का एक मसीहा सामने आएगा। इसके बारे में नास्त्रेदमस ने कहा कि पहले दुनिया इससे नफ़रत करेगी लेकिन कुछ समय बाद ही पूरी दुनिया इस मसीहा से प्यार करने लगेगी।

भारत में जन्म लेने वाला मसीहा दुनिया को नई राह दिखाएगा। पूरी दुनिया के लोग उसके नक्शे-क़दम पर चलना शुरू करेगी। दुनिया में यही शांति लाएगा।

2. भारत के बारे में नास्त्रेदमस की दूसरी भविष्यवाणी:

नास्त्रेदमस के अनुसार 2012 से 2025 के मध्य में तीसरे महायुद्ध या तृतीय विश्वयुद्ध (3rd World War) हो सकता है। इस तृतीय विश्वयुद्ध (3rd World War) में भारत का रोल बहुत महत्वपूर्ण होगा। क्योंकि दुनिया में शांति स्थापना के लिए भारत को ही आगे आना पड़ेगा। तृतीय विश्वयुद्ध (3rd World War) में भारत दुनिया में शांति लाने का काम करेगा। सभी देश भारत की सहायता की प्रतीक्षा करेंगे। तृतीय विश्वयुद्ध (3rd World War) के साथ ही नास्त्रेदमस ने दुनिया के मसीहा के बारे में बताया था।

3. भारत के बारे में नास्त्रेदमस की तीसरी भविष्यवाणी:

नास्त्रेदमस के अनुसार भारत और पाकिस्तान के बीच एक निर्णायक परमाणु युद्ध होगा। इसमें पाकिस्तान का नामो-निशान भी मिट सकता है। इसकी भी प्रबल सम्भावना है की पाकिस्तान का भारत में विलय हो जाए।

4. नास्त्रेदमस ने की थी इंदिरा जी की मृत्यु की भविष्यवाणी:

नास्त्रेदमस की भारत के लिए भविष्यवाणियों के बारे में बात करें तो उन्होंने भारत के लिए कई भविष्यवाणियाँ की थी। नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी के अनुसार भारत में एक सत्ता से निष्कासित स्त्री को दोबारा सत्ता मिलेगी। सत्ता के शिखर में पहुँचने के कारण कई लोग उसके दुश्मन बन जाएँगे और मारने की प्लानिंग करेंगे। दुश्मन उसके ख़िलाफ़ षडयंत्र रचते रहेंगे, जिसमें उनको कई असफलताओं के बाद सफलता भी मिल जाएगी। और 3 सालों के कार्यकाल के बाद भारत की इस महान स्त्री केवल 70 वर्ष की आयु में ही मृत्युसैय्या पर सो जाएगी।

इसे भी पढ़ें :   नवरात्रि क्यों मनाई जाती हैं? जानें चैत्र नवरात्रि का महत्व, तारीख़ और पूजन विधि

आपको बता दें की 1977 के लोकसभा चुनाव में इंदिरा जी का सामना जनता पार्टी से था और इस चुनाव में इंदिरा जी को हार का सामना करना पड़ा था। लेकिन 1980 में ही उन्होंने सत्ता में वापसी करते हुए देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनी थी।

इंदिरा जी की हत्या के समय उनकी उम्र केवल 67 साल थी। अब आप ख़ुद ही फ़ैसला करिए की नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी उनके लिए सटीक हुई थी या नही।

5. राजीव गांधी की मृत्यु की भविष्यवाणी नास्त्रेदमस ने की थी:

भारत के लिए नास्त्रेदमस द्वारा की गई भविष्यवाणियाँ : नास्त्रेदमस के अनुसार भारत में एक युवा अपना पेशा छोड़कर भारत के प्रधानमंत्री पद पर क़ाबिज़ हो जाएगा। लेकिन नास्त्रेदमस ने इसके बाद जो कहा वह रोगते खड़े कर देने वाला है। उनके अनुसार उस युवा के केवल 7 वर्ष के शासन के बाद ही एक बर्बर सेना द्वारा उसके ख़िलाफ़ षड्यंत्र रचा जाएगा और वह इसमें सफल भी होंगे। नास्त्रेदमस के अनुसार उस युवा का अंत दिल दहला देने वाला होगा।

आपको बता दें की उस समय के कांग्रेस के नेता संजय गांधी की मृत्यु होने पर ही राजीव गांधी अपना पेशा छोड़कर भारत की राजनीति में प्रवेश किए थे। राजीव गांधी राजनीति में आए ताकि वो अपनी माँ इंदिरा गांधी की सहायता कर सकें। लेकिन विधि का विधान कुछ और ही था। कुछ समय बाद ही इंदिरा गांधी की भी हत्या कर दी गई थी। जिसके कारण 1984 में राजीव गांधी को सक्रिय राजनीति में सीधे तौर पर आना पड़ा और उन्हें कांग्रेस का नेता बनाया गया।

इसे भी पढ़ें :   पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में बनेगा पहला हिंदू मंदिर First Hindu Temple in Islamabad

इसके बाद हुए लोकसभा चुनाव में राजीव गांधी ने प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में वापसी की और देश के प्रधानमंत्री बनें।

राजीव गांधी के 7 वर्ष के शासन के बाद ही एक दिल दहला देने वाली घटना हुई जिसमें राजीव गांधी की हत्या कर दी गई थी।

6. नास्त्रेदमस ने की थी भारत के महान विश्‍वविद्यालयों को नष्ट करने की भविष्यवाणी:

नास्त्रेदमस ने कहा था कि कुछ अनपढ़ शासक और लोग पढ़े-लिखों के संस्थानों को नष्ट कर देंगे और उनकी किताबों इत्यादि को जला देंगे।

भारत के बारे में नास्त्रेदमस ये की ये बात बिलकुल सच साबित हुई। प्राचीन समय में भारत दुनिया का शिक्षा केंद्र था। भारत के विक्रमशिला, तक्षशिला और नालंदा विश्‍वविद्यालय में पूरी दुनिया के छात्र पढ़ने आते थे।

लेकिन बर्बर मुस्लिम आक्रमणकारियों ने दुनिया के इन शिक्षा केंद्र को पूरी तरह से नष्ट कर दिया, उन्हें जला दिया था।

7. भारत के लिए भविष्यवाणी: दुनिया का महान नेता:

नास्त्रेदमस ने भविष्यवाणी की थी कि तीन तरफ से घिरे समुद्रीय क्षेत्र में दुनिया का महान नेता जन्म लेगा। और वह बृहस्पतिवार (गुरुवार) को अवकाश घोषित करेगा। उसकी शक्ति के आगे दुनिया झुक जाएगी। भूमि, समुद्र, हवा में उसके जैसा दुनिया में कोई शक्तिशाली नही होगा। वह अपने शत्रुओं को पूरी तरह मिटा देगा, जो भी उससे लड़ेगा वह टिक नही पाएगा।

आपको बता दें की भारत ही दुनिया में एक मात्र देश है जो तीन तरफ से समुद्र से घिरा हुआ है। भारत में दुनिया को नई राह दिखाने वाले पहले भी जन्म ले चुके हैं जैसे की कृष्ण, राम, महावीर, बुद्ध, चाणक्य इत्यादि। लेकिन नास्त्रेदमस की इस भविष्यवाणी के सच होने का इंतज़ार है, जो गुरुवार को आवकाश घोषित करेगा और दुनिया में उसका डंका बजे।

8. नेताजी सुभाषचंद्र बोस के बारे में नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी:

नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी के अनुसार भारत में एक नेता जन्म लेगा जो अजनबी साम्राज्य के लिए आगे आएगा। एक नेता जल मार्ग से भारत से दूर किसी देश की मदद के लिए आगे आएगा और दुनिया की मदद करेगा। वह सक्रिय युद्ध में भाग लेगा इसमें कई लोग मारे जाएँगे।

इसे भी पढ़ें :   नास्त्रेदमस कौन थे और उन्होंने क्या भविष्यवाणियाँ की थी? biography of nostradamus in Hindi, नास्त्रेदमस की जीवनी

नास्त्रेदमस की यह भविष्यवाणी नेताजी सुभाषचंद्र बोस के लिए सटीक होती है। उन्होंने अपनी फौज का निर्माण किया था और कई देशों की मदद की थी। आपको बता दें की जापान की मदद से सुभाषचंद्र बोस की फौज जिसे आजाद हिंद फौज के नाम से जाना जाता था, 1944 में ब्रिटेन की सेना से लड़ने के लिए भारत पहुँच गई थी।

लेकिन जापानी की वायुसेना से मदद न मिल पाने के कारण आजाद हिंद फौज और जापान की सेना यह युद्ध हार गई और उन्हें पीछे हटना पड़ा था।

9. नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी विश्वनाथ प्रतापसिंह और चंद्रशेखर के बारे में :

नास्त्रेदमस ने कहा था कि प्राकृतिक आपदा जैसे बाढ़ आने के बाद दो नेता चुने जाएँगे। इनमे से पहला कलंक से बचने के लिए सत्ता का परित्याग कर देगा, लेकिन दूसरे के पास कोई रास्ता नही बचेगा।

नास्त्रेदमस की इस भविष्यवाणी को पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर और विश्वनाथ प्रतापसिंह से जोड़ कर देखा जाता है। आपको बता दें की चंद्रशेखर और विश्वनाथ दोनों साथ में सत्ता में आए थे और चंद्रशेखर को प्रधानमंत्री बनाया गया था। उसके बाद राजनीतिक दवाब के कारण और कलंक से बचने के लिए चंद्रशेखर ने इस्तीफा दे दिया था। प्रधानमंत्री के पद पर चंद्रशेखर सिर्फ 7 महीने तक ही रह पाए थे। उसके बाद उन्होंने जनता दल से अलग होने का निर्णय किया और कई नेताओं के साथ मिलकर समाजवादी जनता पार्टी को बनाया था।

आशा करते हैं की नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी या Nostradamus Predictions about India पोस्ट आपको पसंद आई होगी। NioDemy की हमेशा यही कोशिश रहती है की हम आपको देश दुनिया के बारे में सारी जानकारी अपनी वेबसाइट में दें ताकि आपको इनके लिए किसी और वेबसाइट में नही जाना पड़े। अगर हमारी पोस्ट “भारत के बारे में नास्त्रेदमस ने क्या भविष्यवाणियां की थी?” आपको अच्छी लगी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया जैसे की Facebook, Whatsapp, Twitter में शेयर करना ना भूलें। दोस्तों आपको ये पोस्ट “नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी हिंदी में” कैसी लगी कमेंट में हमें बताना ना भूलें।

Comment here