Skip to content
Home » Questions » Hindi » World GK in Hindi » दुनिया की सबसे लंबी नदी कौन सी है | Duniya Ki Sabse Lambi Nadi Kaun Si Hai

दुनिया की सबसे लंबी नदी कौन सी है | Duniya Ki Sabse Lambi Nadi Kaun Si Hai

Ask Me Anything : A Great Place to LearnCategory: World GK in Hindiदुनिया की सबसे लंबी नदी कौन सी है | Duniya Ki Sabse Lambi Nadi Kaun Si Hai
प्रिया Staff asked 4 weeks ago

यहाँ पर "दुनिया की सबसे लम्बी नदी कौन सी है (Duniya Ki Sabse Lambi Nadi Kaun Si Hai) के साथ दुनिया की सबसे लम्बी नदी का नाम क्या है (Duniya Ki Sabse Lambi Nadi Ka Naam Kya Hai) यानि World Ki Sabse Lambi Nadi Kaun Si Hai, World Longest River in Hindi, Longest River in the World in Hindi" के बारे में पूरी जानकारी दी गई है।

1 Answers
प्रिया Staff answered 4 weeks ago

Duniya Ki Sabse Lambi Nadi : दुनिया की सबसे लंबी नदी उत्तर-पूर्व अफ्रीका में बहने वाली नील नदी है। नील नदी की लंबाई 6,650 किलोमीटर (4,132 मील) है। नील नदी अफ्रीका की सबसे लम्बी झील विक्टोरिया से निकलकर विस्तृत सहारा मरुस्थल के पूर्वी भाग को पार करती हुई उत्तर में भूमध्य सागर में मिल जाती है।

नील नदी कि दो सहायक नदियां हैं - 'सफेद नील और ब्लू नील'। दुनिया की सबसे लम्बी नदी "नील नदी" कितनी लंबी है इसका अंदाज़ा आप इस बात से लगा सकते हैं कि भारत की सबसे बडी नदी गंगा की लम्बाई 2,525 किलोमीटर है जबकि Duniya Ki Sabse Lambi Nadi नील नदी की लम्बाई 6,650 किलोमीटर है। नील नदी सिर्फ आकार में ही सबसे लंबी नदी नहीं है बल्कि प्राचीन मिस्र के विकास में इस नदी की बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

दुनिया की सबसे लंबी नदी यानि नील नदी भूमध्य रेखा के निकट भारी वर्षा वाले क्षेत्रों से निकलकर दक्षिण से उत्तर की ओर क्रमशः युगांडा, इथियोपिया, सूडान एवं मिस्र जैसे कई देशों से होकर बहते हुए काफी लंबी घाटी बनाती है।

नील नदी को 'Father of the African Rivers' यानि 'अफ्रीकी नदियों के पिता' के रूप में भी जाना जाता है। 6,650 किमी लंबी नील नदी को दुनिया की सबसे बडी नदी के साथ-साथ अफ्रीका महाद्वीप की सबसे बडी नदी भी माना जाता है।

नील नदी इसकी दो प्रमुख सहायक नदियों : White Nile (सफेद नील) और Blue Nile (ब्लू नील) के संयोजन से बनती है। नील नदी की दो सहायक नदियाँ सूडान की राजधानी खार्तूम में मिलती हैं। खार्तूम से, नील नदी का पहला भाग लगभग 1,380 किमी तक नासर झील में बहता है, जबकि दूसरा भाग अंतिम जल-प्रपात तक पहुंचने से पहले पांच जल-प्रपातों की श्रृंखला में लगभग 80 किमी तक बहता है।

नील नदी अंततः उत्तरी काहिरा में एक डेल्टा क्षेत्र में प्रवेश करती है और दो अलग-अलग धाराओं में विभाजित हो जाती है, अंततः भूमध्य सागर में जाकर विलुप्त हो जाती है।

दुनिया की सबसे लम्बी नदी 'नील नदी' का जल निकासी बेसिन (Drainage Basin) लगभग 33,49,000 वर्ग किलोमीटर है। इसमें 11 अफ्रीकी राष्ट्र जैसे बुरुंडी, कांगो, मिस्र, इरिट्रिया, इथियोपिया, केन्या, रवांडा, सूडान गणराज्य, दक्षिण सूडान, तंजानिया और युगांडा के हिस्से शामिल हैं।

नदियों को प्राकृतिक रूप से बहने वाले मीठे पानी के निकायों के रूप में परिभाषित किया जाता है, जो उच्च ऊंचाई वाले क्षेत्रों से कम ऊंचाई वाले क्षेत्रों की ओर बहती हैं और अंत में किसी महासागर में जाकर विलुप्त हो जाती हैं या फिर किसी दूसरी लंबी नदी में समाहित हो जाती हैं।

धरती के विभिन्न महाद्वीपों में स्थित इतनी लंबी नदियों से दुनिया की सबसे लंबी नदी का सटीक निर्धारण करना चुनौतीपूर्ण है। 2009 में, "इंटरनेशनल जर्नल ऑफ़ डिजिटल अर्थ" में प्रकाशित एक लेख द्वारा नील नदी को दुनिया की सबसे लंबी नदी घोषित किया।

आशा करते हैं कि यहाँ पर आपके सवाल दुनिया की सबसे लंबी नदी कौन सी है (Duniya Ki Sabse Lambi Nadi Kaun Si Hai) यानि World Longest River in Hindi या Longest River in the World in Hindi का सही उत्तर मिल गया होगा।