नदी

विश्व नदी दिवस (World Rivers Day in Hindi): क्यों मनाया जाता है विश्व नदी दिवस, इतिहास, थीम, महत्व

विश्व नदी दिवस (World Rivers Day) एक अंतरराष्ट्रीय उत्सव है जो हर साल सितंबर के चौथे रविवार को मनाया जाता है। यह दिन दुनिया भर की नदियों के महत्व को मान्यता देने और उनके संरक्षण के लिए जागरूकता फैलाने का अवसर प्रदान करता है। इस साल, विश्व नदी दिवस 2024 (World Rivers Day in Hindi) […]

टॉप 10 रहस्यमय झीलें, नदियाँ और झरने (Top 10 Mysterious Lakes, Rivers and Waterfalls)

Top 10 Mysterious Lakes, Rivers and Waterfalls: जानें दुनिया के टॉप 10 रहस्यमय झीलों, नदियों और झरनों के बारे में, जो अपनी अद्भुत कहानियों और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए प्रसिद्ध हैं।

Chambal Nadi Ki Lambai: चंबल नदी की लंबाई कितनी है?

Chambal Nadi Ki Lambai: मध्यप्रदेश से निकलने वाली चंबल नदी की कुल लंबाई लगभग 1,024 किलोमीटर है। यह नदी भारत के तीन प्रमुख राज्यों “मध्य प्रदेश, राजस्थान और उत्तर प्रदेश” से होकर बहती है। मध्य प्रदेश में इस नदी की लंबाई 320 किलोमीटर, राजस्थान में 370 किलोमीटर और उत्तर प्रदेश 110 किलोमीटर है। यह नदी

चंबल नदी राजस्थान के कितने जिलों में बहती है?

चंबल नदी राजस्थान के 5 जिलों से होकर बहती है, जिनमें “कोटा, बूंदी, सवाई माधोपुर, धौलपुर और करौली” ज़िले शामिल हैं। इन जिलों में चंबल नदी का कुल प्रवाह लगभग 235 किलोमीटर होता है। राजस्थान में चंबल नदी का मार्ग महत्वपूर्ण है क्योंकि यह राज्य के जल संसाधनों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यहाँ

चंबल नदी की गहराई कितनी है?

चंबल नदी की गहराई: चंबल नदी भारत की एक प्रमुख नदी है, जो मध्य प्रदेश, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से होकर बहती है। यह नदी यमुना नदी की एक महत्वपूर्ण सहायक नदी है। चंबल नदी की गहराई स्थान और मौसम के अनुसार भिन्न-भिन्न होती है। चंबल नदी की औसत गहराई लगभग 10

चंबल नदी किसने गिरवी रखी – नदी को गिरवी रखने की सच्ची कहानी

चंबल नदी, जो मध्य भारत की प्रमुख नदी है, अपनी प्राकृतिक सुंदरता और धार्मिक कथाओं के साथ ही एक ऐतिहासिक घटना के लिए भी प्रसिद्ध है। चंबल नदी को गिरवी रखने की यह घटना मध्यकालीन भारतीय इतिहास से संबंधित है, जिसमें चंबल नदी को गिरवी रखा गया था। यह सच्ची कहानी दर्शाती है कि किस

चंबल नदी का इतिहास (History of Chambal River in Hindi) – शापित कथा

Chambal River History in Hindi: चंबल नदी, जो मध्य प्रदेश में बहती है, को शास्त्रों के अनुसार शापित माना गया है। श्रीमद् भागवत के तथ्यों के मुताबिक, इस नदी में नहाने से मानव अपवित्र हो जाता है और इसलिए इसे अपवित्र और पाप का भागी बनने की वजह माना जाता है। इस आर्टिकल से जानिए चंबल नदी का इतिहास।

चंबल नदी: ऐतिहासिक धरोहर और प्राकृतिक सौंदर्य | Chambal River in Hindi

Chambal River in Hindi: चंबल नदी भारत की सबसे महत्वपूर्ण और पवित्र नदियों में से एक है। यह नदी मध्य भारत में प्रवाहित होती है और इसके प्राकृतिक सौंदर्य, ऐतिहासिक महत्व और जीवविविधता के कारण प्रसिद्ध है। चंबल नदी का प्राचीन नाम ‘चर्मण्वती’ है और यह नदी धार्मिक, सांस्कृतिक और पर्यावरणीय दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है।

Chambal Ravines in Hindi | चंबल के बीहड़: एक रहस्यमयी धरती की कहानी

Chambal Ravines in Hindi: भारत के ह्रदय में बसे उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान राज्यों के सीमावर्ती क्षेत्र में चंबल के बीहड़ एक अद्वितीय भू-आकृति है। यहां की रहस्यमयी धरती, गहरी खाइयों, ऊंची-नीची चट्टानों और घुमावदार नदियों से भरपूर है। यह क्षेत्र अपने ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और प्राकृतिक धरोहरों के कारण विश्वभर में प्रसिद्ध है।

Scroll to Top